ये दिल हैं मुश्किल / मैं लिखता नहीं हूँ / छलांग / शायर के अफसाने / दूर चले / शिव की खोज / गली / सर्द ये मौसम हैं / कभी कभी-2 / कभी कभी / मेरे घर आना तुम / शादी की बात - २ / धुप / क्या दिल्ली क्या लाहौर / बड़ा हो गया हूँ / भारत के वीर / तुम्हे / अंतिम सवांद / बाबु फिरंगी / प्रोटोकॉल / इश्क / कसम / चाँद के साथ / शब्दों का जाल / तुने देखा होता / वियोग रस / हंगामा / साली की सगाई / राखी के धागे / संसद / अरमान मेरे / कवितायेँ मेरी पढ़ती हो / रात का दर्द / भूख / बूढी माँ / जिनके खयालो से / इश्क होने लगा है / रंगरेज़ पिया / तुम / मेरी कविताये यु न पढ़ा करो / ट्रेफिक जाम / तेरा ख्याल / लोकतंत्र का नारा / मेरे पाँव / सड़के / वो शाम / शादी की बात / रेत का फूल / वो कचरा बीनता है / भीगी सी याद / ख़ामोशी / गुमनाम शाम / कवि की व्यथा / कभी मिल गए तो / दीवाने / माटी / अग्निपथ / गौरिया / लफंगा सा एक परिंदा / भूतकाल का बंदी / इमोशनल अत्याचार / तेरी दीवानी / नीम का पेड़ / last words / परवाना / लोरी / आरज़ू / प्रेम कविता / रिश्ते / नया शहर / किनारा / एक सपना / ख्वाहिश / काश / क्या कह रहा हु मैं / future song / naqab / duriya / sharabi / Zinda / meri zindagi / moksha / ranbhoomi / when i was old / you n me / my gloomy sunday / the little bird / khanabadosh / voice of failure / i m not smoker

Friday, October 04, 2013

शिव की खोज



मन के मंथन से जो उपजा 
बंजर कर दे सारी वसुधा 
ऐसा पश्चाताप का हलालाल 
अंजलि में लिए फिरता हूँ 
कर ले जो जनहित में विषपान 
ऐसे शिव को खोजता फिरता हूँ 

विचारों के धरातल को तोड़ दे 
मेरी सोच की सीमाओ को लाँघ दे 
कर दे मन के टुकड़े टुकड़े 
हर एक टुकड़ा नवजीवन हों 
कर दे विनाश का तांडव 
ऐसे शिव को खोजता फिरता हूँ 

हे ब्रह्म तुम सृजन को तैयार रहों 
मैं आता हूँ अपने मन को लेके 
मृत्यु का आशीर्वाद दे कर 
जीवन की ओर जो मन को भेजे 
पूर्ण करें जो जीवन चक्र को
ऐसे शिव को खोजता फिरता हूँ

2 comments:

Sweta said...

Very well written OP ji....

I wish the poem was longer :)

ओमी said...

Thanks Sweta ji
Will try to append later ..have some idea but not so sure :)